अँकना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँकना ^१पु॰ क्रि॰ सं॰ [सं॰ अङ्कन] दे॰ 'आँकना' ।

अँकना ^२पु क्रि॰ अ॰

१. आँका जाना या कूता जाना ।

२. लिखा जाना या अंकित होना ।

अँकना ^३पु क्रि॰ सं॰ [सं॰ आकर्णन] सुनना । श्रवण करना । उ॰—अबध सकल नर नारि बिकल अति अँकानि बचन अनभाए ।— तुलसी ग्रं॰, भा॰,

२. , पृ॰ ३६२ ।