अंकमुख

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अंकमुख संज्ञा पुं॰ [ सं॰ अङ्कमुख] नाटक का आरंभिक अंश जिसके द्वार सभी अंक तथा बीज रूप में कथानक सूचित किया जाता है, जैसे— भवभूति के मालतीमाधव नाटक का प्रथम अंक (सा॰ दर्पण) ।