अंकाई

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

लिंग[सम्पादन]

  • स्त्रीलिंग

संज्ञा[सम्पादन]

  1. आँकने की क्रिया या भाव, अंकन।
  2. आँकने या अँकन करने का पारिश्रमिक।
  3. फ़सल में से जमींदार और काश्तकार के भगों का ठहराव, दानाबंदी।