अकत्थ

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अकत्थ पु † वि॰ सं॰ अकत्थ्य;प्रा॰ अकत्थ] जो कहा न जा सके । न कहने योग्य । अकथनीय । उ॰—मसि नैना लिखनी बरुनि रोई रोई लिखा अकत्थ ।—जायसी (शब्द॰) ।