आँचर

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

आँचर पु संज्ञा पुं॰ [ हिं॰] दे॰ 'आँचल' । उ॰—पौंह ऊँवै, आँचरु उलटि, मोरि, मुहुँ मोरि मोरि॰ नीठि नीठि भीतर गई, दीठि दीठि सौं जोरि ।—बिहारी र॰, दो॰२४२ ।