आँहाँ

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

आँहाँ प्रव्य [हिं॰ ना + हाँ] नहीं । विशेष— यह शब्द किसी प्रश्न के उत्तर में जीभ हिलाने के क्षम से बचने के लिये बोला जाता है स्वर और ऊष्म, विशेषकर 'ह' के उच्चारण में बहुत कम प्रयत्न करना पड़ता है ।