आकब

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

आकब † संज्ञा पुं॰ [सं॰ आखबन= खोदता]

१. घास फुल, जिसे जोते हुए खेत से निकालकर बाहर फेंकते हैं ।

२३. जोते हुए खेत से घास फुस निकालने की क्रिया । चिखुरना ।