आकिंचन

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

आकिंचन संज्ञा पुं॰ [सं॰ आकञ्चिन] गरीबी । निर्धनता । अकिंचनता [को॰] ।

आकिंचन वि॰ दे॰ 'आकिंचन' । उ॰—आकिंचन इंद्रियदमन, रमन राम इकतार । तुलसी ऐसे संत जन, बिरले या संसार ।— तुलसी ग्रं॰, पृ॰ १२ ।