आधारी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

आधारी वि॰ [सं॰ आधारिन्] [स्त्री॰ आधारिणी]

१. सहारा रखनेवाला । कहारे पर रहनेवाला । जैसे,— दुग्धाधारी ।

२. साधुओं की टेवकी या अड्डे के आकार की लकडी जिसका सहारा लेकर वे बैठते हैं । उ॰—(क) मपद्रा श्रवण नहीं थिर जीऊ । तन त्रिसूल आधारी पीऊ ।— जायसी (सब्द॰) । (ख) परम तत आधारी मेरे॰ सिव नगरी घर मेरा ।— कबीर ग्रं॰, पृ॰ १५४ ।