इंद्रीजीत

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

इंद्रीजीत पु वि॰ [सं॰ इन्द्रियजीत्] दे॰ 'इंद्रियजित्' । उ॰—प्रति अनन्य गति इंद्रीजीता । जाको हरि बिनु कतहुँ न चीता ।—तुलसी ग्रं॰, पृ॰ १० ।