ईक्ष

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईक्ष पुं॰ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ इक्षु] दे॰ 'ईख' । उ॰— भयौ सरकार ईक्ष रस व्यापि मिठाई माहिं । सुंदर ब्रह्म सु जगत है, जगत ब्रह्म द्वै नाहिं । — सुंदर ग्रं॰, भा॰ २, पृ ८०२ ।