उखेलना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उखेलना पु क्रि॰ स॰ [सं उल्लेखन] उरेहना । लिखना । (तस्वीर) खींचना । उ॰—चचा चित्र रचो बहु भारी चिंत्रहीं छोड़ि चेतु चित्रकारी । जिन यह चित्र विचित्र उखेला । चित्र छोड़ि तू चेत चितेला ।—कबीर (श्बद॰) ।