उचक्का

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उचक्का संज्ञा पुं॰ [हि॰ उचकना से] [स्त्री॰ उचक्की]

१. उचककर चीज ले भागनेवाला । चाईं । ठग । जैसे, मेलों में चोर उचक्के बहुत जाते हैं ।

२. बदमाश । लुच्चा । उठाईगीरा । उ॰—बटपारी, ठग, चोर, उचक्का, गाँठिकट, लठबाँसी ।—सूर॰, १ । १८६ ।