उचिष्ट

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उचिष्ट पु संज्ञा पुं॰ [सं॰ उच्छिष्ट] दे॰ 'उच्छिष्ट' । उ॰—(क) अनेक ग्रंथ तिन बरन बत यौं उचिष्ट मति मैं लहिए ।—पृ॰ रा॰, १ । १५ । (ख)संत उचिष्ट वार मन झेला । दुरलभ दीन दुहेला ।—घट॰, पृ॰ २०१ ।