उपकार

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उपकार संज्ञा पुं॰ [सं॰] [वि॰ उपकारक, उपकारी, उपकार्य, उपकृत]

१. भलाई । हितसाधन । नेकी । क्रि॰ प्र॰—करना, मानना = की हुई भलाई को याद रखना । कृतज्ञ होना । यौ॰—कृतोपकार । परोपकार ।

२. लाभ । फायदा । जैसे—इस औषधि ने बड़ा उपकार किया (शब्द॰) ।

३. समारंभ । तैयारी (को॰) ।

४. आभूषण । अलं— कार (को॰) ।

५. पर्व या उत्सव के अवसर पर द्वारशोभा के लिये बंदनवार बनाना, विशेषतया फूलों और मालाओं द्बारा (को॰) ।