ऊकटना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊकटना क्रि॰ अ॰ [हिं॰ 'अकठना'] उ॰—उत्तर आज स उत्तरउ, ऊकटिया सारेह । बेलाँ बेलाँ परहरइ, एकल्लाँ मारेह ।—ढोला॰, दू॰ २९५ ।