ऊबंध

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊबंध ^१ पु संज्ञा पुं [सं॰ उदबंध] बाँध । उ॰—मुरझ थाँन मेवाड़, राँण राजाँन सरीखा । महुण देख ऊबंध, करै कुण बंध परीखा ।—रा॰ रू॰ पृ॰ २३ ।

ऊबंध ^२ वि॰ बंधरहित । मर्यादा रहित । उ॰—सितर खाँन सकबंध, कटक अनमंध छिलेकर । असपत हद सामंद, कीध ऊबध प्रमेसर । —रा॰ रू॰, पृ॰ १५३ ।