ऊभा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊभा वि॰ [हिं॰ ऊभना=खडा़ होना] खड़ा । स्थित । उ॰—परी करै औ ऊभा धावै, बाहर भीतर दौडा़ आवै । —कबीर॰ सा॰, पृ॰ ५४२ ।