ऊमन्ती

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊमंती पु वि॰ [सं॰ उन्मत्त]

१. उन्मत्त । पागल । विक्षिप्त ।

२. विचारहीन । उ॰—चिल्हानी वुलि पत्ति सों, ऊमंती वर- जंत । बड़ गुरजन बत्ती सुनी सो दिट्ठी दिषि कंत । —पृ॰ रा॰, ६१ ।१८५१ ।