ऊरे

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊरे पु † वि॰ [हिं॰ ओर] इधर । पहले । उ॰—अब श्री गुसाँई की सेवकिनी एक ब्राह्मनी, उज्जैन ते चार कोस ऊरे में एक ग्राम है ।—दो सौ बावन॰, भा॰ १, पृ॰ ३१३ ।