ऐषीक

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऐषीक ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰] एक शस्त्र जो त्वष्टा देवता का मंत्र पढ़कर चलाया जाता है ।

ऐषीक ^२ वि॰ [सं॰] सरकंडा या बेंत का (शर) । सरकंडा या बेंत संबंधी (को॰) । यौ॰—ऐषीक पर्व=महाभारत के सौप्तिक पर्व का एक अंश ।