खुला

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

खुला वि॰ पुं॰ [हिं॰ खुलना] [कौं खुली]

१. बंधनरहित । जोबँधा न हो ।

२. आच्छादन रहित ।

३. जिसे कोई रूकावट न हो । अवरोधहीन ।

३. छिपा न हो । स्पष्ट । प्रकट । जाहिर । मुहा॰— खुले खजाने = सबके सामने । किसी से छिपाकर नहीं । खुले दिल = उदारतापुर्वक । खुलेबंद = बेधड़क । नि: शंक । खुले मैदान = सबके सामने । खुले खजाने । खुला मैदान या स्थान = वह स्थान जहाँ चारों ओर से हवा आ सकती हो और दृष्टि के लिए कोई अवरोध नहो । खुली हवा = वह हवा जिसकी गति का अवरोध न होता हो ।