घँघराघोर

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

घँघराघोर † संज्ञा पुं॰ [हिं॰ घघरा + घोर] छुआछूत के विचार का अभाव । भ्रष्टाचार । घालमेल ।