चंदिर

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

चंदिर संज्ञा पुं॰ [सं॰ चन्दिर]

१. चंद्रमा । उ॰—(क) रच्यो विश्वकर्मा सो मंदिर । परम प्रकाशित मानहुचंदिर । — रघुराज (शब्द॰) (ख) हेम कलश कल कोट कंगूरे । — कहुँ मंदिर चंदिर सम रुरे ।—रघुराज (शब्द॰)

२. हाथी ।

३. कयूर [को॰] ।