चुराना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

क्रिया

अनुवाद

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

चुराना ^१ क्रि॰ स॰ [सं॰ चुर (= चोरी करना)]

१. किसी वस्तु की उसके स्वामी के परोक्ष या अनजान में ले लेना । किसी दूसरे की वस्तु की इस प्रकार ले लेना कि उसे खबर न हो । गुप्त रूप से पराई वस्तु हरण करना । चोरी करना । मुहा॰—चित चुराना = मन को आकर्षित करना । मन मोहित करना ।

२. परोक्ष में करना । लोगों की दृष्टि से बचाना । छिपाना । जैसे,—वह लड़का पैसा हाथ में चुराए है । मुहा॰—आँख चुराना = नजर बचाना । सामने मुँह न करना । जी चुराना = (१) वशीभूत करना । (२) काम की उपेक्षा करना । मन लगाकर काम न करना ।

३. किसी वस्तु के देने या काम के करने में कसर । जैसे,— (क) यह गाय दुध चुराती है । (ख) यह गवैया सुर चुराता है । मुहा॰—जाँगर चुराना = काम करने में कसर रखना ।

४. किसी के भाव आदि अपना लेना । भाव चुराना ।