जकड़

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

जकड़ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ जकड़ना] जकड़ने का भाव । कसकर बाँधना । मुहा॰—जकड़बंद करना = (१) खूब कसकर बाँधना । (२) अच्छी तरह फँसा लेना । पूरी तरह अपने अधिकार में कर लेना ।