जगह

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

मकाम, स्थान

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

जगह संज्ञा स्त्री॰ [फा़॰ जायगाह]

१. वह अवकाश जिसमें कोई चीज रह सके । स्थान । स्थल । जैसे,—(क) उन्होंने मकान बनाने के लिये जगह ली है । (ख) यहाँ तिल धरने को जगह नहीं है । क्रि॰ प्र॰—करना ।—छोड़ना ।—देना ।—निकालना ।—पाना । ।—बनाना ।—मिलना, आदि । मुहा॰—जगह जगह = सब स्थानों पर । सब जगह ।

२. स्थिति । पद । विशेष—कुछ लोग इस अर्थ में 'जगह' को क्रिया विशेषण रूप में बिना विभक्ति के ही बोलते हैं । जैसे,—हम उन्हें भाई की जगह समझते हैं ।

३. मौका । स्थल । अवसर ।

४. पद । ओहदा । जैसे,—(क) दो महीने हुए उन्हें कलक्टरी में जगह मिल गई । (ख) इस दफ्तर में तुम्हारे लिये कोई जगह नहीं है ।