झँझोड़ना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झँझोड़ना क्रि॰ स॰ [सं॰ झर्झन]

१. किसी चीज को बहुत वेग और झटके के साथ हिलाना जिसमें वह टूट फूट जाय या नष्ट हो जाय । झकझोरना । जैसे,— वे सोए हुए थे, इन्होंने जाते ही उन्हें खूब झँझोडा़ ।

२. किसी जानवर का अपने से छोटे जानवर को मार डालने के लिये दाँतों से पकड़कर खूब झटका देना । झकझोरना । जैसे, कुत्ते या बिल्ली का चूहे को झँझोड़ना ।