झँपान

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झँपान संज्ञा पुं॰ [सं॰ झम्प] सवारी के लिये एक प्रकार की खटोली जिसमें दोनों ओर दो लंबे बाँस बँधे होते हैं । झप्पान । विशेष— इन बाँसों के दोनों ओर बीच में रस्सियाँ बँधी होती हैं, जिनमें छोटे छोटे दो और बाँस पिरोए रहते हैं । इन्हीं बाँसों को चार आदमी कंधों पर रखकर सवारी ले चलते हैं । यह सवारी बहुधा पहा़ड़ की चढा़ई मे काम आती है ।