झंझकार

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झंझकार पु संज्ञा पुं॰ [सं॰ झङ्कार] झंकार । झन् झन् की मधुर ध्वनि । उ॰—निगम चारि उतपति भयो चतुरानन मुख वैन । उचरेउ शब्द अनाहदा झंझकार मद ऐन ।—संत॰ दरिया, पृ॰ ४० ।