झकझोरना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झकझोरना क्रि॰ स॰ [अनु॰] किसी चीज को पकड़कर खूब हिलाना । झोंका देना । झटका देना । उ॰— (क) सूरदास तिनको ब्रज युवती झकझोरति उर अंक भरे ।—सूर (शब्द॰) । (ख) अधिक सुगंधनि सेवक चारू मलिंदन को झकतझोरति है ।—सेवक (शब्द॰) । (ग) बातन ते ड़रपैए कहा झकझोरत हूँ न अरी अरसात है ।— (शब्द॰) ।