झझकारना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झझकारना क्रि॰ स॰ [अनु॰]

१. डपटना । डाँटना ।

२. दुर- दुराना ।

३. अपने सामने कुछ न गिनना । किसी को अपने आगे मंद बना देना । उ॰—नख मानो चँद्र बाण साजि कै झझकारत उर आग्यो । सूरदास मानिनि रण जीत्यों समर संग डरि रण भाग्यो ।—सूर (शब्द॰) ।