टकटक

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

टकटक पु क्रि॰ वि॰ [हिं॰ टकटकाना] टकटकी लगाकर देखना । एक टक देखना । उ॰—टकटक ताकि रही ठग मूरी आपा आप बिसारौ हो ।—पलटू॰ भा॰ ३, पृ॰ ८४ । क्रि॰ प्र॰—ताकना ।—देखना ।