ढचर

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ढचर संज्ञा पुं॰ [हिं॰ ढाँचा]

१. किसी वस्तु को बनाने या ठीक करने का सामान या ढाँचा । आयोजन और सामान । क्रि॰ प्र॰—फैलाना । बाँधना ।

२. टंटा । बखेड़ा । जंजाल । धंधा । कारबार ।

३. आडंबर । झूठा आयोजन । ढकोसला । क्रि॰ प्र॰—फैलाना ।

४. बहुत दुबला पतला और बूढ़ा ।