ढलकना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ढलकना क्रि॰ अ॰ [हि॰ ढाल]

१. पानी या और किसी द्रव पदार्थ का आधार से नीचे गिर पड़ना । ढलना । संयों क्रि॰ —जाना ।

२. लुढ़कना । नोचे ऊपर चक्कर खाते हुए सरकना ।

३. हिलना । उ॰— कुंड़ल झलक ढलक सीसनि की ।—पोद्दार अभि॰, ग्रं॰ पृ॰ ३८३ ।