ढहराना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ढहराना † क्रि॰ सं॰ [हि॰ ढार]

१. लुढ़काना ।

२. सूप के अन्न में से गोल दाने की कंकड़ी, मिट्टि आदि को लुढ़काकर अलय करना । पछोरना । फटकना ।