ढुण्ढी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ढुंढी ^१ संज्ञा स्त्री॰ [देश॰]

१. बाँह । बाहु । मुसुक ।

ढुंढी ^२ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ ढोंढ़] दे॰ 'ढोंढो' । मुहा॰ —ढुंढिया चढ़ाना = मुसकें बाँधना । उ॰— उसने झट उसकी पगड़ी उतार ढुंढिया चढाय मूछ, डाढ़ी और सिर मूँड़ रथ के पीछे बाँध लिया ।—लल्लू (शब्द॰) ।