तंडुलजल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तंडुलजल संज्ञा पुं॰ [सं॰ तण्डुलजल] चावल का पानी जो वैद्यक में बहुत हितकर बतलाया गया है । यह दो प्रकार से तैयार किया जाता है— (१) चावल को कूटकर अठगुने पानी में पकाकर छान लेते हैं, यह उत्तम, तंडुलजल है । (२) चावल को थोड़ी देर तक भीगोकर छान लेते हैं । यह तंडुलजल साधारण हैं ।