तंत्रधारक

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तंत्रधारक संज्ञा पुं॰ [सं॰ तन्त्राधारक] यज्ञ आदि कार्यों में वह मनुष्य जो कर्मकाड़ आदि की पुस्तक लेकर याज्ञिक आदि के साथ बैठता हो । विशेष— स्मृतियों के अनुसार यज्ञ आदि में ऐसे मनुष्य का होना आवश्यक है ।