तकातक

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तकातक क्रि॰ वि॰ [हिं॰ तकना] देखते हुए । देखकर निशान लेते हुए । उ॰—धनुष बान ले चढ़ा पाधी धनुआ के परच नहीं है रे । सरसर बान तकातक मारे मिरगा के घाव नहीं है रै ।—कबीर श॰, भा॰ २, पृ॰ ६९ ।