थनेला

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

थनेला संज्ञा पुं॰ [हिं॰थन + एला (प्रत्य॰) [स्त्री॰ थनेली]

१. एक प्रकार का फो़ड़ा जो स्त्रियों के स्तन पर होता है । इसमें सूजन ओर पीड़ा होती है ओर घाव हो जाता है ।

२. गुब- रैले की जाति का कीड़ा जिसके विषय में प्रसिद्ध है कि वह गाय, भैंस आदि के थन में डंक मार देता है । जिससे दूध सूख जाता है ।