थम्भी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

थंभी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ स्तम्भी, प्रा॰ थंभ, थंब + ई (प्रत्य॰)] चाँड़ । सहारे का खभा । दे॰ 'थंबी' । उ॰—निकसि गइ थंमी ढहि परा मंदिर, रलि गया चिक्कड़ गारा ।—संतवाणी॰, भा॰, २, पु॰ ८ ।