दाई

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दाई ^१ वि॰ स्त्री॰ [हिं॰ दायाँ] दाहिनी । जैसे, दाई आँख ।

दाई ^२ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ दाच्(प्रत्य॰), हिं॰ दाँ (प्रत्य॰)] बारी । दफा । बार । उ॰—तब नहिं जानेहुँ पीर पराई । अब कस रोवहु अपनी दाई ।—विश्राम (शब्द॰) ।

दाई ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ धात्री, फा़॰ दायह्]

१. दूसरे के बच्चे को अपना दूध पिलानेवाली स्त्री । धाय । यौ॰—दाई पिलाई ।

२. वह दासी जो बच्चे की देखरेख रखने या उसे खेलाने के लिये रखी जाय । यौ॰—दाई खेलाई ।

३. वह स्त्री जो स्त्रियों को बच्चा जनने में सहायता देती हो । प्रसूता के उपचार के लिये नियुक्त स्त्री । यौ॰—दाई जनाई । मुहा॰—दाई से पेट छिपाना = जाननेवालों से कोई बात छिपाना । ऐसे मनुष्य से कोई बात गुप्त रखना जो सब रहस्य जानता हो ।

दाई ^२ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ दादी]

१. पिता की माता । दादी ।

२. बड़ी बूढ़ी स्त्री ।

दाई पु ^३ वि॰ [सं॰ दायिन्] दे॰ 'दानी' ।