द्विज

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

द्विज ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. अंडज प्राणी ।

२. पक्षी ।

३. हिंदुओं में ब्राह्मण, क्षत्रिय और वैश्य वर्ण के पुरुष जिनको शास्त्रानुसार यज्ञोपवीत धारण करने का अधिकार है । मनु के धर्मशास्त्र के अनुसार यज्ञोपवीत मनुष्य का दूसरा जन्म माना गया है ।

४. ब्राह्मण । उ॰—जीवौ कोरि बरीस असीसत द्विज बंदी- जन बोलत बिरुदाय ।—घनानंद, पृ॰ ४८० ।

५. चंद्रमा ।