नमूना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

नमूना संज्ञा पुं॰ [फा॰ नमुनह्]

१. किसी बड़े या अधिक पदार्थ में से निकाला हुआ वह छोटा़ या थोड़ा अंश जिसका उपयोग उस मुल पदार्थ के गुण और स्वरूप आदि का ज्ञान कराने के लिये होता है । बानगी । जैसे, कपड़े का नमुना, चावल का नमूना ।

२. वह जिससे उसके सदृश दूसरी वस्तुओं के स्वरूप और गुण आदि का ज्ञान हो जाय । जैसे, नमुने का थान, नमूने की टोपी ।

३. वह जिसके अनुकरण पर वैसी ही और वस्तुएँ बनाई जायँ ।

४. ढाँचा । ठाट । खाका ।