निहाई

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

निहाई संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ निघाति; मि॰ फा़॰ निहाली] सोनारों और लोहारों का एक औजार जिसपर वे धातु को रखकर हथौड़े से कूटते या पीटते हैं । विशेष—यह लोहे का बना हुआ चौकोर होता है और नीचे की अपेक्षा ऊपर की ओर कुछ अधिक चौड़ा होता है । नीचे की ओर निहाई को एक काठ के टुकड़े में जोड़ देते हैं जिससे यह कूटते या पीटते समय इधर उधर हिलती डोलती नहीं । यह छोटी बड़ी कई आकार और प्रकार की होती है । यौ॰—निहाई की थाली = वह थाली जो निहाई पर रखकर नकाशी गई हो ।