पंखाल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पंखाल पु † संज्ञा पुं॰ [सं॰ पंक्षालु] गिद्ध आदि पक्षी । उ॰— बरंगा राल बरमाल सूरा बरैं । त्रिपत पंखाल दिल खुले ताला ।—रघु॰ रू॰, पृ॰ २० ।