पंचता

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पंचता संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ पञ्चता]

१. पाँच का भाव ।

२. शरीर घटित करनेवाले पाँचो भूतों का अलग अलग अवस्थान । मृत्यु । विनाश ।