पंडित

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पंडित ^१ वि॰ [वि॰ स्त्री॰ पण्डित] [पंडिता, पंड़िताइन पंडितानी]

१. विद्धान् । शास्त्रज्ञ । ज्ञानी । विशेष—लोक में 'पंडित' शब्द का प्रयोग पढ़े लिखे ब्राह्मणों ही के लिये होता है । शिष्टाचार में ब्राह्मणों के नाम के पहले यह शब्द रखा जाता है ।

२. कुशल । प्रवीण । चतुर ।

३. संस्कृत भाषा का विद्वान् ।

पंडित ^२ संज्ञा पुं॰

१. पढ़ा लिखा शास्त्रज्ञ ब्राह्मण ।

२. वह जो सदमद् के विवेकज्ञान से युक्त हो । शास्त्रज्ञ विद्वान् ।

३. ब्राह्मण ।

४. एक प्रकार का गंधद्रव्य । सिह्लक (को॰) ।