पक्षपात

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पक्षपात संज्ञा पुं॰ [सं॰] बिना उचित अनुचित के विचार के किसी के अनुकूल प्रवृत्ति या स्थिति । तरफदारी ।

२. रुचि । इच्छा (को॰) ।

३. अनुराग । आसक्ति (को॰) ।

४. (चिड़ियों के) पंखों का गिरना (को॰) ।